SaturdaySawal_jainnewsviews

Why Jain Monks wear Muhapati? | SaturdaySawal of 22 September 2018

  जैन साधुजी और साध्वीजी मुहपति क्यों पेहेनते है अथवा बोलते समय मुख के सामने हाथ क्यों रखते है ? इसका सही उत्तर आपको सोमवार (24 September 2018) को दिया जाएगा और सबसे उत्तम उत्तर देने वाले का नाम और उसका उत्तर भी सोमवार को हम व्हाट्सप्प और सोशल मीडिया पर जरूर बातएंगे The Correct Answer for…

पदयात्रा कर राजगीर पहुंचे 85 जैन मुनि!

राजगीर (नालंदा) : तीन हजार किलोमीटर का पदयात्रा करते हुए 85 जैन संतों एवं साध्वियों का विशाल संघ गुरुवार को राजगीर पहुंचा. विशाल संघ में जैन संतों के अलावा 150 श्रावक भी शामिल हैं. जैन संत परम पूज्य गणाचार्य श्री 108 विराग सागर जी महाराज के सान्निध्य में यह पद यात्रा 27 फरवरी को दिल्ली से शुरू…

3500 किलोमीटर की यात्रा पर निकला सवा सौ साधु-साध्वियों का संघ !

उज्जैन. गुजरात के सूरत से झारखंड के श्री सम्मेद शिखरजी जैन तीर्थ के लिए निकला 125 साधु-साध्वियों का पैदल संघ शुक्रवार सुबह 7.30 बजे शहर पहुंचा। हासामपुरा जैन तीर्थ से विहार कर शहर आए साधु साध्वियों ने समूह के रूप में विभिन्न जैन मंदिरों में दर्शन कर मंदिरों का महत्व व इतिहास जाना। गच्छाधिपति आचार्य राजशेखर…