30 जून को आचार्यश्री विद्यासागर महाराज का 50वां दीक्षा दिवस है। इसे पूरे देश में संयम महोत्सव के रूप में मनाया जाएगा। इस अवसर पर देश के 50 प्रमुख शहरों में आचार्य श्री के जीवन पर आधारित फिल्म विद्योदय एक साथ दिखाई जाएगी।इसी कडी में यह मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में दो दिन, दो स्थानों पर दिखाई जाएगी।

पहले दिन 30 जून को यह फिल्म अल्पना सिनेप्लेक्स में और 1 जुलाई को मप्र विधानसभा परिसर में दिखाई जाएगी।

72 वर्षीय महाराज जी के जीवन पर आधारित फिल्म मुंबई में तैयार की गई है। यह फिल्म 1.40 घंटे की है। इस फिल्म में आचार्यश्री की दीक्षा से लेकर अभी तक की संयम यात्रा को दिखाया गया है।

राष्ट्रीय स्तर के इस आयोजन के लिए जैन समाज द्वारा भोपाल के पत्रकार रवीन्द्र जैन को संयोजक बनाया गया है। इस फिल्म के बारे में रवीन्द्र जैन ने बताया कि आचार्यश्री विद्यासागर जी महाराज पर इस फिल्म का निर्माण मुम्बई की लैण्डमार्क फिल्म्स ने किया है। फिल्म की निर्माता व निर्देशन विधि कासलीवाल का है। विधि कासलीवाल दस साल तक राजश्री प्रोडक्शन से जुड़ी रही हैं। फिल्म का संपादन पुलोमा पाल ने किया है।  आचार्यश्री की दीक्षा के पचास वर्ष पूरे होने पर 30 जून को देश के पचास शहरों में इस फिल्म का प्रदर्शन एक साथ किया जा रहा है।

भोपाल में 30 जून शनिवार को अल्पना सिनेप्लेक्स में फिल्म के दो निशुल्क शो होंगे। पहला शो सुबह 7.30 बजे और दूसरा शो सुबह 9.30 बजे। इसके अलावा भोपाल में समाज की भावनाओं को देखते हुए 1 जुलाई रविवार को मप्र विधानसभा परिसर में शाम 7.30 बजे से इस फिल्म का भव्य शो सभी के लिए आयोजित किया गया है। विधानसभा में आचार्यश्री के सभी भक्तों के साथ साथ सभी धर्मों के साधू संतों और सभी समाजों के प्रमुख लोगों को आमंत्रित किया जा रहा है।

रवीन्द्र जैन ने बताया कि आचार्यश्री शायद दुनिया के पहले संत हैं जिन पर उनके जीवन काल में लगभग साठ लोग पीएचडी कर चुके हैं और लगभग इससे ज्यादा लोग पीएचडी कर रहे हैं। इनमें सभी धर्मों के लोग शामिल हैं। उनके जीवन पर भव्य नाटक आत्मान्वेषी भी तैयार किया गया है। अब फिल्म भी बन गई है। इस फिल्म का प्रसारण कई देशों में एकसाथ करने की भी योजना है।

Watch the Trailer :

News Sourced from MP Breaking News

Trailer Video by आचार्य श्री विद्यासागर Youtube Channel


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *