पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा ने कहा कि कर्नाटक के विकास में जैन समुदाय का अहम योगदान है।

कर्नाटक में जनता दल (ध) की सरकार आने पर जैन समुदाय को जरूरी सुविधाएं उपलब्ध करवाने के पूरे प्रयास किए जाएंगे।

वे रविवार को अखिल कर्नाटक जैन (अल्पसंख्यक) चैरिटेबल सेवा ट्रस्ट बेंगलूरु की ओर से गिरिनगर में आयोजित समारोह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। देवेगौड़ा ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा लाए गए जीएसटी से व्यापारी वर्ग को परेशानी हुई है।

अल्पसंख्यकों के अधिकार बताए
महेंद्र सोलंकी ने अल्पसंख्यक आयोग के माध्यम से मिलने वाली सुविधाओं और उनके अधिकारों की विस्तार से जानकारी दी। ट्रस्ट अध्यक्ष नरेन्द्र पोखरना ने सहयोग की अपील की। मंत्री कैलाश दलाल ने ट्रस्ट की गतिविधियों से अवगत कराया। विनोद खाबिया ने मंगलाचरण किया। अल्पसंख्यक प्रमाण पत्र के लिए बड़ी संख्या में समाजबंधुओं ने पंजीयन कराया। संयोजक भरत बी. जैन व अन्य पदाधिकारियों ने अतिथियों का अभिनंदन किया।

संचालन प्रो. बालूराम दलाल ने किया। जद (ध) नेता बागे गौड़ा, भारतीय वायुसेना के सेवानिवृत्त ग्रुप कैप्टन प्रदीप अग्निहोत्री, विधान पार्षद टीए सरवण्णा, बाबूलाल रांका, कल्याण बुरड़, सुजानमल बुरड़, हनुमंतनगर संघ के पूर्व अध्यक्ष भंवरलाल गादिया, पारस जैन, जीटी श्रीनिवास सहित बड़ी संख्या में समाज जन उपस्थित रहे।

प्रदेश को चाहिए अच्छा प्रशासक
विशिष्ट अतिथि जद (ध) के वरिष्ठ नेता पीजीआर सिंधिया ने कहा कि कर्नाटक और राजस्थान में बहुत पुराना संबंध रहा है। यहां जनप्रतिनिधि बने प्रवासी राजस्थानियों ने बखूबी कर्तव्य निभाया। समाज के लोगों ने कर्नाटक विकास में बहुत योगदान दिया। कानून व्यवस्था अच्छी होगी तो निडर होकर कारोबार कर सकते हैं। कर्नाटक में अच्छा प्रशासक चाहिए।

विधानसभा चुनाव पर की चर्चा
बेंगलूरु. प्रदेश भाजपा कार्यालय, मल्लेश्वरम में सांसद पीसी मोहन ने राजस्थानी समाज के पदाधिकारियों व सदस्यों के साथ विधानसभा चुनाव पर चर्चा की। भाजपा व्यापारी प्रकोष्ठ बेंगलूरु के अध्यक्ष भीमराज राजपुरोहित, गांधीनगर मंडल सचिव कांतिलाल राजपुरोहित, कर्नाटक जाट समाज के पूर्व सचिव मुकेश जाखड़, छैलसिंह राजपुरोहित, दिनेश चारण, हितेश माली के अलावा प्रवासी राजस्थानी संगठनों के प्रतिनिधि रहे।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *