in

Bhagwan Mahavir Bhakti Songs | महावीर स्वामी भक्ति गीत

Bhagwan Mahavir Janma Kalyanak | Mahavir Jayanti Bhakti songs
Bhagwan Mahavir Janma Kalyanak | Mahavir Jayanti Bhakti songs

आज महावीर जन्म कल्याणक के अवसर पर

आज हम Jain News Views पे लेके आएं है बहोत सारे भक्ति गीत ताकि आप कर सके प्रभु की भक्ति !

भगवान महावीर जैन धर्म के चौंबीसवें (२४वें) तीर्थंकर है।

भगवान महावीर का जन्म करीब ढाई हजार साल पहले (ईसा से 599 वर्ष पूर्व), वैशाली के गणतंत्र राज्य क्षत्रिय कुण्डलपुर में हुआ था। महावीर को ‘वर्धमान’, वीर’, ‘अतिवीर’ और ‘सन्मति’ भी कहा जाता है। तीस वर्ष की आयु में गृह त्याग कर, दीक्षा लेकर आत्मकल्याण के पथ पर निकल गये। १२ वर्षो की कठिन तपस्या के बाद उन्हें केवलज्ञान प्राप्त हुआ। उसके पश्चात उन्होंने समवशरण में ज्ञान प्रसारित किया और ७२ वर्ष की आयु में उन्हें पावापुरी से मोक्ष की प्राप्ति हुई। इस दौरान उनके कई अनुयायी बने जिसमें १४००० मुनि ३६००० आर्यिकाएँ१५९००० श्रावक और ३१८००० श्राविकाएं शामिल थी।

उस समय के राजा बिम्बिसारकुनिक और चेटक भी महावीर स्वामी के अनुयायी थे। जैन समाज द्वारा महावीर स्वामी के जन्मदिवस को महावीर-जयंती अथवा महावीर जन्म कल्याणक तथा उनके मोक्ष दिवस को दीपावली के रूप में धूम धाम से मनाया जाता है।

लेकिन सबसे पहले आपको हमारी और से हार्दिक बधाई

Mahavir Janma Kalyanak | Mahavir Jayanti

फेसबुक पे हमे LIKE करे और पाएं जैन धर्म पर सभी प्रकार की जानकारी !

Facebook By Weblizar Powered By Weblizar

तो चलिए शुरू हो जाएँ और जूम उठिये प्रभु की भक्ति में !

अधिक भक्ति गीत के लिए LINKपर क्लिक करे

https://jainsite.com/category/jain-stavan/mahavir-swami-songs-jain-stavan/

 

 


Also published on Medium.

What do you think?

0 points
Upvote Downvote

Total votes: 0

Upvotes: 0

Upvotes percentage: 0.000000%

Downvotes: 0

Downvotes percentage: 0.000000%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Antarikshji Jain Tirth_5

Antarikshji Jain Tirth

Everything you must know about Bhagwan Mahavir Swami

Everything you must know about Bhagwan Mahavir Swami