in

पारसनाथ पहाड़ पर नक्सलियों और जवानों के बीच मुठभेड़, 1 जवान घायल

पारसनाथ पहाड़ पर नक्सलियों और जवानों के बीच मुठभेड़, 1 जवान घायल
पारसनाथ पहाड़ पर नक्सलियों और जवानों के बीच मुठभेड़, 1 जवान घायल

जैन धर्म के पवित्र सिद्धक्षेत्र श्री सम्मेद शिखर जी में आज प्रात: पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हो गई !

जिसमें एक सीआरपीएफ का जवान घायल हो गया, जिसे डुमरी के जनरल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जानकारी के मुताबिक गिरिडीह के एसपी श्री सुरेंद्र झा को जानकारी मिली कि पारसनाथ पहाड़ के तराई वाले इलाके में नक्सली संगठन भाकपा माओवादी का दस्ता जुटा है।

इसके बाद सीआरपीएफ के 154 बटालियन, कोबरा के जवानों के साथ इलाके में सर्च अभियान चलाया गया। सूत्रों के अनुसार सर्च आपरेशन में नक्सलियों के बंकर से भारी मात्रा में बारुद समेत अन्य सामान मिला है। जानकारी के मुताबिक सीआरपीएफ एवं पुलिस के जवान रायबेड़ा एवं पिपराडीह के बीच पहुंचे तो पारसनाथ पहाड़ पर जमे नक्सलियों ने पुलिस पर फायरिंग शुरु कर दी। जवाब में पुलिस और सीआरपीएफ के जवानों ने जवाबी फाइरिंग की तो नक्सली जंगल की ओर भाग गये।

इसी दौरान सीआरपीएफ के जवान वीर सिंह के हाथ और पैर में गोली लगी। जवानों एवं नक्सलियों के बीच भुठभेड़ की सूचना मिलने पर एसपी भी मधुबन पहुंच गये और अभियान को गति प्रदान की। एएसपी दीपक कुमार के नेतृत्व में पूरे इलाके में सर्च अभियान शुरु कर दिया गया है। इसी बीच डीआईजी भी घायल जवान को देखने पहुंचे और घायल जवान को हैलीकाप्टर से रांची शिफ्ट कर दिया गया। इलाके में सर्च आपरेशन अभी भी जारी है।

सभी जैन श्रद्धालुओं को सलाह है कि वंदना करते समय सतर्कता बरतें और कोशिश करें कि एक साथ बड़े समूह में ही जाएं। इसके साथ पुलिस थाने को सूचित करें और हो सके तो पुलिस या सेना के जवानों के साथ यात्रा/वंदना करें।

What do you think?

55 points
Upvote Downvote

Total votes: 1

Upvotes: 1

Upvotes percentage: 100.000000%

Downvotes: 0

Downvotes percentage: 0.000000%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

India’s First President on Jainism | जैन धर्म पर भारत के पेहले राष्ट्रपति

Ancient Jainism | अतिप्राचीन जैन धर्म

आठवीं और दसवीं शताब्दी के जैन धर्म के कॉपर प्लेट्स मिले !